सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

BATTLEGROUNDS MOBILE INDIA के BETA VERSION को 50+ लाख से भी ज्यादा डाउनलोड कर चुके हैं PUBG LOVERS

Krafton ने Battlegrounds Mobile India को टेस्टिंग के मध्य नजर रखते हुए अपने ऑफिशियल वेबसाइट www.battlegroundsmobileindia.com पर बीटा वर्जन में रिलीज किया। और इसमें कुछ सीमित gamer को ही अर्ली एक्सेस मिल पाया था। वर्तमान में बीटा वर्जन में लगभग सभी को गेम प्ले के लिए एक्सेस मिल चुका है।


BATTLEGROUNDS MOBILE INDIA
BATTLEGROUNDS MOBILE INDIA

Hindi Samachaar : 2 सितंबर 2020 को भारत सरकार द्वारा लगभग 120 Chinese ऐप पर प्रतिबंध लगाया गया था इन प्रतिबंधित एप के लिस्ट में कुछ पॉपुलर TikTok और Pubg जैसे ऐप भी शामिल थे। भारत सरकार के इस निर्णय से लगभग सभी गेमर और स्ट्रीमर् निराश हो चुके थे।

साथ इस फैसले से Pubg Mobile के पैरंट कंपनी Karfton को भी फाइनेंशली काफी नुकसान झेलना पड़ा। लेकिन भारत में इस्पोर्ट्स में युवाओं से लेकर हर एक उम्र के लोगों में दिलचस्पी देखने को मिला और इसलिए Krafton ने तय किया कि भारत के लिए एक अलग से ही वर्जन बनेगा जिसका Tencent कंपनी के साथ कोई नाता नहीं होगा। 


भले ही Krafton, Pubg Mobile का पैरंट कंपनी है लेकिन उनका पार्टनरशिप Tencent कंपनी के साथ थी जो एक चाइनीस गेमिंग कंपनी है। और क्योंकि चाइना का भारत के साथ कोई अच्छा रिश्ता नहीं रहा है इसलिए भारत सरकार ने सभी चाइनीस ऐप पर प्रतिबंध लगाना शुरू कर दिया और अपने देश के नागरिक के डाटा को सुरक्षित रखने के लिए पबजी मोबाइल ऐप को भी बैन किया

करीब 1 साल के मशक्कत के बाद क्राफ्ट ऑन ने भारत के लिए बैटलग्राउंड मोबाइल इंडिया एप बना दिया और इसके फ्री रजिस्ट्रेशन को इंडिया में स्टार्ट किया गया गूगल प्ले स्टोर पर जिसके रिस्पांस क्राफ्ट ऑन को भारत के गेमर्स के तरफ से जबरदस्त सपोर्ट मिला। प्री-रजिस्ट्रेशन स्टार्ट होने से लेकर अर्ली एक्सेस तक लगभग 20 मिलियन यूजर्स ने प्री-रजिस्ट्रेशन किया गूगल प्ले स्टोर पर। 


आपको बता दें पब जी मोबाइल जब हमारे देश में बैन नहीं हुआ था तो प्रतिदिन लगभग 50 मिलियन लोग हर वक्त एक्टिव रहते थे। 


अभी तक में कितनी बार डाउनलोड हो चुके हैं बैटलग्राउंड्स मोबाइल इंडिया का बीटा वर्जन

क्राफ्ट ऑन ने बैटलग्राउंड्स मोबाइल इंडिया का बीटा वर्जन कुछ सीमित प्लेयर को अर्ली एक्सेस का अनुमति दिया 17 जून 2021 को। पब्जी फ्रेंड्स की तरफ से अधिकतम संख्या में बैटलग्राउंड्स मोबाइल इंडिया ऐप को डाउनलोड किए जाने पर कुछ वक्त के लिए डाउनलोडिंग रोक दिया गया Krafton के तरफ से। और फिर 18 जून 2021 को क्राफ्टऑन ने इंस्टाग्राम पर बैटलग्राउंड मोबाइल इंडिया के पेज पर सभी यूजर्स को जानकारी दिया कि अब अर्ली एक्सेस सभी प्लेयर के लिए उपलब्ध है। और अभी तक में 5000000+ से भी ज्यादा डाउनलोड किया जा चुका है गूगल प्ले स्टोर पर बैटलग्राउंड मोबाइल इंडिया ऐप के बीटा वर्जन को। 


क्या Pubg Mobile के पुराने डाटा Battlegrounds Mobile India में रहेंगे

जी हां, Pubg Mobile में जो आप की रैंकिंग या अचीवमेंट थी वह सारे डाटा ट्रांसफर होकर बैटलग्राउंड्स मोबाइल इंडिया के सर्वर पर अपलोड कर दिया जाएगा और इसके लिए जब आप बैटलग्राउंड मोबाइल इंडिया ऐप को इंस्टॉल करेंगे तो आपसे डाटा ट्रांसफर लिए अनुमति भी मांगी जाएगी। 


भारतीय यूजर्स बैटलग्राउंड्स मोबाइल इंडिया एप पर 1 दिन में कितने रुपए खर्च कर सकता है

भारत सरकार के नियमानुसार भारतीय गेमर बैटलग्राउंड्स मोबाइल इंडिया एप पर 1 दिन में 7000 रुपए से ऊपर खर्च नहीं कर सकता है। साथ ही 18 वर्ष से कम उम्र के आयु वर्ग के युवाओं के लिए खास प्रावधान किया गया है। 

बैटलग्राउंड्स मोबाइल इंडिया का बीटा वर्जन एप एंड्राइड वर्जन में लगभग 1400 एमबी का है।

टिप्पणियाँ